Aligarh: “ स्मृति 2018 ” में अंबिका पाल ने सभी प्रतिभागियों को पीछे छोड़ मिस “ स्मृति ” का ताज हासिल किया। मदर टेरेसा वीमेंस पीजी काॅलेज में आयोजित “ स्मृति 2018 ” का शुभारंभ संस्थापक डाॅ डी.एस.महलवार,

सचिव पंकज महलवार , रजिस्ट्रार डाॅ बिजेंद्र सिंह, परीक्षा नियंत्रक जितेंद्र महलवार, प्राचार्या डाॅ स्वर्णलता याज्ञनिक, बीएड प्रभारी विवके सारस्वत ने दीप प्रज्जवलन कर किया। संस्थापक डाॅ डी.एस. महलवार ने कहा कि श्शिक्षा में आधुनिकता के साथ-साथ गुणवत्ता का भी समावेश होना आवश्यक है। अगर हम आधुनिक तकनीकि को नहीं अपनायेंगे तो प्रतिस्पर्धा में पीछे रह जायेंगे। शिक्षा में अगर गुणवत्ता का अभाव रहता है, तो वह शिक्षा का अपमान होगा। श् सचिव पंकज महलवा ने कहा कि श्आज के युवा कल के उभरते भारत का भविष्य  हैं। युवाओं को अपने टैलेंट में सकारात्मक विकास करना चाहिए , ताकि आने वाला समय उनका हो। श् सरस्वती वंदना के साथ रंगारंग कार्यक्रमों की श्रंखला शुरू हुई। ज्योति, तनु, कुमकुम, कविता, अरिबा, आरती, स्वेता, करिश्मा के डांस , धनवेश के गीत , प्रेमवती की शायरी ने तालियां बजाने पर मजबूर कर दिया। छात्राओं ने फैशन शो में रैम्प वाॅक कर अपनी अदाओं का जलवा बिखेरा। प्रश्नोत्तर राउंड के बाद अंबिका पाल को मिस “ स्मृति ” घोषित किया गया। ” बीएड प्रभारी विवके सारस्वत ने धन्यवाद ज्ञापित किया। कार्यक्रम का संचालन आकांक्षा भारद्वाज ने किया। इस दौरान नीरज सिंह, श्वेता मिश्रा, सीमा शर्मा, डाॅ आराधना मिश्रा, डाॅ अनंता शांडिल्य, धरती पाठक, प्रवीना शर्मा, मीनाक्षी सारस्वत, रचना महलवार, फरहा, भारती, शिवा परवीन, अर्चना सिंह उपस्थित थे।