Aligarh:अंतर्राष्ट्रीय  योग दिवस पर जहां हर जगह योगाभ्यास का आयोजन किया, वहीं शांति नर्सिंग होम में अंतर्राष्ट्रीय  योग दिवस को अलग ढंग से मनाया।

शांति नर्सिंग होम में वरिष्ठ स्त्री रोग विशेषज्ञ डाॅ सुरेखा चौधरी  ने महिला रोगियों को उनकी परेशानी से निजात दिलाने में सकारात्मक परिणाम के लिए योग के महत्व के प्रति जागरूक किया। डाॅ सुरेखा चौधरी ने महिला मरीजों से नियमित योग करने के फायदे के बारे में बताया कि “ महिलाओं की प्रमुख समस्या माहवारी की अनियमितता, बांझपन यानि निसंतानता, अंडों का कम या अनियमित संख्या में बनना आदि में रोजाना योग करने से लाभ प्राप्त होता है। दवा के साथ-साथ हर चिकित्सा प्रणाली में योग सकारात्मक परिणाम देता है। सामान्य महिला को रोजाना आधा घंटा, गर्भवती महिला चिकित्सक की सलाह के अनुसार, किशोरावस्था में कम से कम एक घंटा , वृद्ध महिला को अपनी क्षमता के अनुसार योगासन व प्राणायाम करना चाहिए। ” वरिष्ठ हड्डी रोग विशेषज्ञ डाॅ वीरेंद्र चौधरी  ने कहा कि “ योग से श्वसन, पाचन, रक्त, तंत्रिका, अंतःश्रावी, संधि तंत्र आदि को योग से विकसित किया जा सकता है। योग से हड्डियों के जोड़ों का संचालन भी अच्छा होता है। ” ओपीडी में आए मरीजों को योग के प्रति जागरूक किया और संकल्प लिया कि अब दवा के साथ योग की सलाह को रोजाना दिनचर्या में शामिल किया जाऐगा। इस दौरान डाॅ कल्पना बघेल, डाॅ शुगफ्ता जुबैरी, अरविंद शर्मा, अखिलेश यादव, अरिना खां,  डेजी आॅस्तिन,  संजय जैन,  दिलीप बरूआ,  पवन सांई,  श्यामबाबू शर्मा आदि उपस्थित थे।

इन्हें भी पढ़ें

loading...